Atom क्या होता है? What is an Atom? Electron and Proton? Electronics for Begginerrs

 Hello Friends, ह्म्मारी इस  धरती पर हम जितनी भी चीजें देखते  हैं चाहे वो इन्सान हो या कोई Material तो यहाँ पर आपके मन में ये सवाल नही आया कि ये सब चीजें आखिर किस चीज से बनी हैं, तो आज के ब्लॉग में हम यही जानेंगे कि कोई भी  पदार्थ (Matter) किस चीज से बना है, तो स्वागत है आप सभी का हमारे इस ब्लॉग में चलये देखते हैं ?
         

       

    

              तो किसी भी पदार्थ (Material) को आप इतना तोड़िए या काटिए तो आप कुछ समय बाद देखेंगे कि एक stage पर आकर वो Material हमारा टूटना या कटना बंद हो जायेगा तो अब आप देखेंगे कि यार अब ये कटना आखिर क्यों बंद हो गया तो वो आख़िरी Particle जो कटना बंद हो गया वो बचा हमारा Atom?


   Atom क्या है ?


तो किसी भी पदार्थ (Matter) कि सबसे छोटी unit होती है Atom, तो आप जितनी भी चीजे देखते हैं न इस दुनिया में वो सभी हमारी बनी हैं Atom (परमाणु) से चाहे कोई इन्सान हो या कोई भी वस्तु वो सभी हमारी बनी हैं Atom ( परमाणु) से तो चलये Atom को और समझने से पहले हम कुछ points को समझते हैं ?

     


तो Atom को और अच्छे से जानने से पहले हम कुछ basic term को समझते हैं ?


   

Molecules : तो बहुत सारे Atoms मिलकर एक Molecule बनाते हैं, और बहुत सारे molecules मिलकर एक कोई भी body बनाते हैं जैसे कि लोहा, पीतल, कोयेला आदि, तो इसको आप simply एक उदाहरण से समझिये मान लिजीये कि एक घर है उस घर में जो ईट ( Brick) हैं वो मान लीजिये कि Atom हैं और उन ईटों से जो दीवार बनी हैं वो मान लीजिये कि वो molecules हैं और वो दीवारे मिलकर एक घर का sturucture बनाएगी वो समझ लीजिये  एक body बनायगे तो आप ऐसे समझ लीजिये ?



Element : जिन Materials के अन्दर हमारे same types के Atoms पाए जाते हैं वो केहलाते हैं हमारे                              Elements. जैसे कि Aluminium, silver, आदि ?



Compound : जिन Materials के अन्दर हमारे 2 या 2 से अधिक types के Atoms पाए जाते हैं वो                                          Materials केहलाते हैं compounds. जैसे कि Sodium choride (NaCl), Water (H2O ),                              आदि ?


      तो अब तक हमने देखा कि Atom क्या होता है लेकिन अब हम देखते हैं कि Atom के अन्दर क्या होता है ?



 Atom के अन्दर के particles ?



  तो Atom है सबसे छोटी Unit और Atom के अन्दर भी हमारे कुछ sub-atomic particles होते हैं जैसे कि Electron, Proton और Neutron तो जैसा कि आपको निचे figure दिखाया गया है उसमे Nucleus, Orbit है ?


     और ये जो sub-atomic particles होते हैं वो हर चीज (Element) के Atoms के अन्दर अलग – अलग Quantity में होते हैं किसी में कम और किसी में ज्यादा ?



                                     

  तो इस फोटो में आप जो बीच में Blue colour और Red colour में देख रहे Neucleus पर वो हैं Proton तथा Neutrons.

    और जो Neucleus के चारो तरफ जो Orbit में Green colour के हैं वो हैं Electrons यहाँ पर colour सिर्फ समझाने के लिए दिखाया गया है ?

   

    किसी भी Atom के अन्दर हमारे जो particles होते हैं जैसे कि Electron उसके ऊपर होता है Negative Charge.

     और Proton के ऊपर होता है Positive charge.
     और neutron के ऊपर कोई भी charge नही होता वो neutral होता है ?


         

        अब आयए Atom से Related कुछ थोड़े basic terms को देखते हैं ?



    Atomic Number और Atomic Mass



   Atomic Number : तो किसी भी Atom के अन्दर कितने No. of Protons या कितने No. of Electrons                                        present हैं वो कहलाता है उसका Element का Atomic Number.


                                    No. of Protons    = Atomic Number 

                                    
                               

  Atomic Mass : तो किसी भी Atom के अन्दर के No. of Protons तथा No. of Neutrons का जो Sum                                    होता है वो कहलाता है उस element का Atomic Mass.  


                                   No. of Protons + No. of Neutrons = Atomic Mass



Periodic Table



                                                                      

तो ऊपर जो आपने एक figure देखा वो I Think आपने अपने Books में या कही और भी देखा होगा तो इस figure में जो बॉक्स type में दिख रहे हैं वो Elements  हैं, यानि पूरे विश्व में जो भी चीजे हैं वो सभी इन Elements से ही बनी हैं अब चाहे वो हवा हो या कोई metal का piece वे सभी हमारी Elements से बनी हैं,


   और इसमें figure में आप देख रहे होंगे कि हर Elements का कुछ Number है तो वो क्या है? तो वो है Atomic Number उस element का जैसे कि : Hydrogen का 1, Helium का 2 या Aluminium का 13.


  और यहाँ इस Table में Elements को colour के द्वारा उनकी property को दर्शाया गया है जैसे कि जो Green colour के elements हैं वो Metal की property को show करते हैं और जो Red colour में हैं वो Non-metal की property को show करते हैं और कुछ Grey colour के भी हैं जो show करते हैं Metalliod की property.

     

   तो ये तो कुछ थोड़ा-सा basic हमने Periodic Table के बारे में जाना ?


Atomic shell 



तो अब तक हमने देख लिया कि एक Atom के अन्दर Proton और Neutrons तो Neucleus पर होते हैं लेकिन जो Electrons होते हैं वो Neucleus के चारों ऑर बने orbits में Revolve कर रहे होते हैं लेकिन यहाँ पर अब बात ये आती है कि किस orbit में कितने Electron आएंगे ?

   

    तो उसके लिए हमारे पास एक formula है 2n2 तो जैसा कि एक Atom में  बहुत orbits होते हैं जैसा कि आप नीचे दिए गए picture में देख सकते हैं कि first orbit को नाम दिया गया है ‘k’ shell और इसी तरह दूसरे orbit को नाम दिया गया है ‘l’ shell और इसी तरह third orbit को भी?



 


    तो Electrons को shell में बाँटने का formula है 2n2 यहाँ पर 2 constant है और n जो है वो है कि कौन से नंबर का orbit है जैसे  first orbit है तो n = 1 होगा ,और second orbit है तो n = 2 होगा, और जो n के ऊपर square है वो n की value का square होगा जैसे कि हम देखते हैं कि first orbit में कितने electron आएंगे तो 2(1)2 तो अब value 2 आई तो पहले orbit में आए 2 electron और इसी तरह दूसरे orbit कि बात करे तो 2 constant और n कि value 2 तो यहाँ 2(n)2 तो अब value आई 8 तो दूसरे orbit में आएंगे 8 electrons, तो इसी तरह से हम calculate करते हैं कि कितने electrons आयंगे किस orbit में ?


Electrons divide in Element



अब आयए एक उदहारण ले ही लेते हैं एक element का, कि इस element के Atoms के अन्दर के orbits में कितने electron आएंगे, तो हमने यहाँ पर उदहारण लिया है sodium का तो sodium का atomic no. होता है 11 तो इसका मतलब इसके अन्दर no. ऑफ़ electrons हैं 11 तो first orbit आए 2 और दूसरे orbit में आए 8 और third orbit में आया 1 electron तो इसी तरह हम electrons को shell में


Electrons divided in sub-shells 



     तो जैसा कि अब तक हमें पता है कि Atom के electrons को हम divide करते हैं उनके orbits में एक formule कि मदद से वो (2n2) लेकिन यहाँ पर उन electrons को shells में divide करने के लिए उन shell में भी कुछ sub-shells बने होते हैं  क्या? जी हाँ?  यानि जो orbits हैं हम कह सकते कि  उन orbits के भी कुछ टुकड़े होते हैं जिन्हें हम sub -shell कहते हैं ?

    

       तो अब majorly sub-shells से ही decide होता है कि किस sub-shells में कितने electrons आएंगे ? तो नीचे जो एक picture दिखाया है उसमे आप देखिये कि ?


   

                            

    पहले orbit में आए 2 electron और दूसरे में आए हैं 8 electrons और third orbit में आए हैं 8 या 18 वैसे नार्मल जो formula था 2n2 वाला उसके हिसाब से आने चाहिए थे 18 लेकिन sub-shells के कारण इस orbit में 8 भी आ सकते हैं और 18 भी आ सकते हैं, तो यहाँ पर इससे हमें यह पता चलता है कि हर Elements  के Atoms में first orbit के बाद वाले orbits में  minimum 8 electrons तो रहने ही चाहिए उस Atom को Balance करने के लिए ?

   Valancy और Valance Electron



Valancy: तो जैसा कि हमें पता है कि एक Atom के अन्दर के electrons को हमें बैलेंस करना है उनके atomic shell के according तो उस particular Atom के electrons को balance करने कि ability को हम Valancy कहते हैं, आएये एक उदहारण से समझे –


                                                                       


   

 तो हम मान लेते हैं कि एक sodium है और उसका atomic no है 11 तो इस Atom के electrons पहले orbit में आ गए 2 और दूसरे orbit में आ गए 8 और third orbit में आने चाहिए थे  8 या 18 लेकिन हैं कितने 1  electron और इसको पूरा करने के लिए कितने और चाहिए 7 electrons तो ये Atom क्या करेगा ये 7 electrons लेने की बजाए 1 electron lose कर देगा balance को achieve करने के लिए 


तो Valancy का मतलब हुआ  कि Atom को balance होने के लिए कितने electrons lose या gain करने पड़े वो होता है Valancy अब जैसे carbon है उसका atomic no है 6 तो पहले orbit में 2 electron  और second  orbit में होने चाहिए थे  8 लेकिन हैं कितने only 4 तो अब carbon क्या करेगा lose या gain ? ये कुछ नही करेगा तो carbon कि Valancy हो गयी 4 ?



                                      



Valance Electron : तो एक Atom के last orbit में कितने no. of electrons present हैं वो होते हैं Valance electrons. जैसे कि aluminum Atom के last orbit में पाए जाते हैं 3 electrons तो वो हो गए उसके  Valance electrons. 

             

                                               


अब देखेये कि Valancy और Valance electron दोनों अलग-अलग चीज़े हैं Valancy का मतलब है कि एक Atom कि ability उसके balance को achieve करने के लिए वो है Valancy और एक Atom के last orbit में कितने electrons पाए जाते हैं वो होता है Valance electron.



Free Electron : तो अभी हमने ऊपर बात की valance electron कि लेकिन अब बात करते हैं free electron कि free electron का मतलब है  एक Atom के अन्दर के वो valance electron जिनका force of attraction बहुत कम होता है उस Atom के Nucleus से तो जैसा कि copper के अन्दर बहुत सरे free electrons  पाए जाते हैं इसीलिए हम copper का use electric wires या cables बनाने के लिए करते हैं ?



                                                      

                                             

 Means of 1 Ampere ( एक Ampere का मतलब )



तो आपने बहुत बार सुना होगा कि 1 एम्पेयर current तो Ampere एक scientist का नाम हैं उन्होंने current के ऊपर research कि थी इसीलिए current कि unit होती  है Ampere तो पहले देखते हैं कि current का मतलब क्या होता है current का मतलब होता है “flow of free electrons” तो कितना current flow हो रहा है यानि कितने free electrons flow हो रहें हैं इसको हम नापते हैं Ampere में 


तो 1 Ampere current का मतलब है कि एक body या wire में से 6,300,000,000,000,000,000 free electrons 1 second में flow हो रहे हैं ?  


Charge क्या है ? 



तो चार्ज होता है किसी भी matter कि fundamental property.


Force of Attraction और Repulsion between Charges.



तो जैसा कि हम जानते हैं कि charge का एक law होता है कि same charges एक- दूसरे को repel करते हैं और unlike charges एक- दूसरे को attract करते हैं तो यही होता हैं Force of Attraction और Repulsion between Charges.


Leave a Comment

Your email address will not be published.